International Journal of Advanced Education and Research

International Journal of Advanced Education and Research


International Journal of Advanced Education and Research
International Journal of Advanced Education and Research
Vol. 4, Issue 2 (2019)

माध्यमिक शिक्षा स्तर पर योग शिक्षा का विद्यार्थियों के नैतिक मूल्यों पर प्रभाव का अध्ययन


जय नारायण त्रिपाठी, डाॅं. जय सिंह

इस शोध पत्र के द्वारा माध्यमिक शिक्षा स्तर पर योग शिक्षा का विद्यार्थियों के नैतिक मूल्यो पर प्रभाव का अध्ययन किया गया है। शोध क्षेत्र के माध्यमिक शिक्षा स्तर पर योग शिक्षा का छात्र के नैतिक मूल्य पर पड़ने वाले प्रभाव में सार्थकता का औसत उपलब्धि 62.06 है तथा मानक विचलन 10.52 है व छात्राओं के नैतिक मूल्य पर पड़ने वाले प्रभाव में सार्थकता का औसत उपलब्धि 64.50 है तथा मानक विचलन 10.61 है। 1798 क df सार्थकता के लिए श्जश् का मानक मान 0.01 विश्वास स्तर पर 2.58 तथा 0.05 विश्वास स्तर पर 1.96 है, जबकि अध्ययन से प्राप्त श्जश् का मान 4.48 है, जो कि दोनो विश्वास df के मानों से अधिक है। अतः शोध क्षेत्र के माध्यमिक शिक्षा स्तर पर योग शिक्षा का छात्र व छात्राओं के नैतिक मूल्य पर पड़ने वाले प्रभाव में सार्थक अन्तर है।
शोध क्षेत्र के माध्यमिक शिक्षा स्तर पर योग शिक्षा का ग्रामीण विद्यार्थियो के नैतिक मूल्य पर पड़ने वाले प्रभाव में सार्थकता का औसत उपलब्धि 57.39 है तथा मानक विचलन 12.04 है। शहरी विद्यार्थियों के नैतिक मूल्य पर पड़ने वाले प्रभाव में सार्थकता का औसत उपलब्धि 55.81 है तथा मानक विचलन 12.18 है। 1798 df सार्थकता के लिए श्जश् का मानक मान 0.01 विश्वास स्तर पर 2.58 तथा 0.05 विश्वास स्तर पर 1.96 है, जबकि अध्ययन से प्राप्त t का मान 2.76 है, जो कि दोनो विश्वास स्तरांे के मानों से अधिक है। अतः शोध क्षेत्र के माध्यमिक शिक्षा स्तर पर योग शिक्षा का ग्रामीण व शहरी विद्यार्थियों के नैतिक मूल्य पर पड़ने वाले प्रभाव में सार्थक अन्तर है।
Pages : 77-79 | 1270 Views | 268 Downloads